टीम इंडिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच शुक्रवार से शुरू हुए पहले टेस्ट का पहला दिन पूरी तरह गेंदबाजों के नाम रहा। पुरे दिन में कुल मिलाकर 13 विकेट गिरे। केपटाउन टेस्ट के पहले दिन स्टंप्स के समय टीम इंडिया ने 11 ओवर में तीन विकेट खोकर 28 रन बना लिए हैं। चेतेश्वर पुजारा 5* और रोहित शर्मा बिना खाता खोले क्रीज पर जमे हुए हैं। टीम इंडिया अभी दक्षिण अफ्रीका के स्कोर से 258 रन पीछे हैं जबकि उसके 7 विकेट शेष हैं।

टॉस जीतकर दक्षिण अफ्रीका ने सबसे पहले बल्लेबाजी का फैसला किया, लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए मेजबान टीम को 73.1 ओवर में 286 रन पर ऑलआउट कर दिया। इसके बाद टीम इंडिया ने स्टंप्स तक शीर्ष तीन बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिए।

टीम इंडिया की शुरुआत बेहद खराब रही। ओपनर मुरली विजय (1) को वेर्नोन फिलेंडर ने गली में डीन एल्गर के हाथों कैच आउट कराया। फिर डेल स्टेन ने शिखर धवन (16) का कैच अपनी ही गेंद पर लपककर अपनी वापसी का जश्न मनाया।

इसके बाद मोर्ने मोर्केल ने आते ही टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (5) को अपना शिकार बनाया। उन्होंने अपने स्पेल की पहली गेंद पर कोहली को विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक के हाथों झिलवाया।

इससे पहले टीम इंडिया ने शानदार गेंदबाजी करके दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी तीसरे सेशन में 286 रन पर समेट दी। दक्षिण अफ्रीका को भुवनेश्वर कुमार ने शुरुआत में ही जोरदार झटके दिए। उन्होंने पारी के पहले ओवर की तीसरी गेंद पर डीन एल्गर को विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा के हाथों कैच आउट करा दिया। इसके बाद भुवनेश्वर ने अपने अगले ओवर में एडेन मार्करम (5) को LBW आउट किया। बल्लेबाज ने पहले DRS लेने का मन बनाया, लेकिन गेंद की लाइन इतनी सटीक रही कि उन्होंने इसे जाया नहीं करने का फैसला किया।

इसके बाद भुवी ने टीम इंडिया को बहुत बड़ी सफलता दिलाई। उन्होंने हाशिम अमला (3) को ऑफस्टंप के बाहर की लेंथ गेंद डाली, जो देर से स्विंग हुई। मगर अमला के बल्ले का किनारा निकालने में सफल रही। विकेट के पीछे साहा के लिए यह बेहद आसान कैच रहा।

12 रन पर तीन विकेट गिरने के बाद एबी डीविलियर्स (65) ने कप्तान फाफ डु प्लेसी (62) के साथ दक्षिण अफ्रीका की पारी को संभाला। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 114 रन जोड़े। बता दें कि डीविलियर्स-प्लेसी ने चार साल के बाद 50 या इससे अधिक रन की साझेदारी की।

इस बीच एबी डीविलियर्स ने शमी द्वारा किए पारी के 23वें ओवर की पहली गेंद पर चौका जड़कर अपने टेस्ट करियर की 41वीं हाफ सेंचुरी जमाई। उन्होंने 55 गेंदों में 10 चौको की मदद से पचासा पूरा किया। टीम इंडिया के खिलाफ डीविलियर्स ने छठा अर्धशतक जमाया। हालांकि, लंच के बाद डीविलियर्स ज्यादा देर क्रीज पर टिक नहीं सके। 84 गेंदों में 11 चौको की मदद से 65 रन बनाने वाले एबीडी को बुमराह ने क्लीन बोल्ड कर दिया। बुमराह का भी दिन बन गया और उन्होंने अपना डेब्यू विकेट यादगार बना लिया।

वहीं, फाफ डू प्लेसी ने जसप्रीत बुमराह द्वारा किए पारी के 35वें ओवर की तीसरी गेंद पर चौका जड़कर अपने टेस्ट करियर का 16वां अर्धशतक जमाया। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने 98 गेंदों में 10 चौको की मदद से पचासा पूरा किया। हालांकि इसके बाद वो ज्यादा देर तक क्रीज पर टिक नहीं सके और हार्दिक पांड्या के बाहर जाती हुई बॉल पर विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा को अपना कैच थमा बैठे। डू प्लेसी ने आउट होने से पहले 104 बॉलों पर 12 चौकों की मदद से 62 रन बनाए।

इसके बाद क्विंटन डी कॉक ने 40 गेंदों में 7 चौको की मदद से 43 रन की तेजतर्रार पारी खेली। तब भुवनेश्वर कुमार ने साहा के हाथों कैच आउट कराकर टीम इंडिया को बड़ी सफलता दिलाई। जल्द ही मोहम्मद शमी ने भी अपने विकेट का खाता खोला और वेर्नोन फिलेंडर (23) को क्लीन बोल्ड करके दक्षिण अफ्रीका का सातवां विकेट गिराया।

इसके बाद केशव महाराज (35) ने कागिसो रबाडा के साथ आठवें विकेट के लिए 37 रन की साझेदारी की। इस दौरान दोनों बल्लेबाजों ने भारतीय गेंदबाजों को विकेट के लिए तरसाया। हालांकि, दक्षिण अफ्रीका को पारी के 63वें ओवर में झटका लगा जब महाराज रनआउट हो गए। इसके बाद रविचंद्रन अश्विन ने कागिसो रबाडा (26) की संघर्षपूर्ण पारी का अंत किया.

जल्द ही अश्विन ने मोर्ने मोर्केल (2) को LBW आउट करके दक्षिण अफ्रीका की पारी का अंत किया। टीम इंडिया के हीरो भुवनेश्वर कुमार रहे, जिन्होंने 19 ओवर में चार मेडन सहित 87 रन देकर चार विकेट लिए। इसके अलावा रविचंद्रन अश्विन ने दो जबकि हार्दिक पांड्या, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह को एक-एक सफलता मिली।

दोनों टीम इस प्रकार से थी

टीम इंडियाShikhar Dhawan, Murali Vijay, Cheteshwar Pujara, Virat Kohli (c), Rohit Sharma, Wriddhiman Saha (wk), Hardik Pandya, Ravichandran Ashwin, Mohammed Shami, Bhuvneshwar Kumar, Jasprit Bumrah

टीम साउथ अफ्रीका -Dean Elgar, Aiden Markram, Hashim Amla, AB de Villiers, Faf du Plessis (c), Quinton de Kock (wk), Vernon Philander, Keshav Maharaj, Dale Steyn, Kagiso Rabada, Morne Morkel

Comments

comments