दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी 286 रन पर सिमटी थी, जिसके बाद टीम इंडिया 209 रन पर सिमटी। पहली पारी के आधार पर मेजबान टीम को 77 रन की बढ़त मिली। हालांकि, चौथे दिन दक्षिण अफ्रीका की टीम 130 रन पर ढेर हो गई और टीम इंडिया को 208 रन का लक्ष्य मिला। इसका पीछा करते हुए टीम इंडिया 135 रन पर ऑलआउट हो गई।

मैच में कुल 9 विकेट लेने वाले दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज वेर्नोन फिलेंडर को मैन ऑफ द मैच चुना गया। सीरीज का दूसरा मैच 13 जनवरी से सेंचूरियन में शुरू होगा।

208 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत खराब रही। 27 रन के स्कोर पर उसके शीर्ष तीन बल्लेबाज पवेलियन लौट चुके थे। शिखर धवन (16), मुरली विजय (13) और चेतेश्वर पुजारा (4) कोई कमाल नहीं कर सके।

यहां से कप्तान विराट कोहली (28) ने रोहित शर्मा (10) के साथ चौथे विकेट के लिए 32 रन की साझेदारी की। दोनों ने टीम को संभालने का प्रयास किया, लेकिन फिलेंडर ने उनके अरमानों पर पानी फेर दिया। दाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने 6 रन के अंतराल में टीम इंडिया को दो जोरदार झटके दिए। फिलेंडर ने कोहली को LBW आउट किया, फिर रोहित को बोल्ड कर दिया। कागिसो रबाडा ने हार्दिक पांड्या (1) को डीविलियर्स के हाथों कैच आउट कराकर टीम इंडिया को बैकफुट पर धकेल दिया। चाय टाइम से ठीक एक गेंद पहले फिलेंडर ने ऋद्धिमान साहा (8) को भी अपना शिकार बनाया। टीम इंडिया के लिए शर्मनाक बात यह रही कि लंच और चायकाल के बीच उसके 7 विकेट गिर चुके थे।

इसके बाद रविचंद्रन अश्विन (37) और भुवनेश्वर कुमार (13*) के साथ आठवें विकेट के लिए 49 रन की साझेदारी की और जीत की आस भी जगाई। मगर फिलेंडर एक बार फिर बुरे सपने की तरह आए और अश्विन, मोहम्मद शमी व जसप्रीत बुमराह का शिकार करके दक्षिण अफ्रीका की झोली में जीत डाल गए।

दक्षिण अफ्रीका की तरफ से वेर्नोन फिलेंडर ने सर्वाधिक सिर्फ 42 रन देकर 6 विकेट चटकाए। मोर्ने मोर्केल और कागिसो रबाडा ने दो-दो विकेट लिए।
के ट्वीट को साउथ अफ्रीका ने इस तरह से शेयर किया

इससे पहले टीम इंडिया के गेंदबाजों ने दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी 130 रन पर समेट दी। शमी-भुवी और बुमराह की तिकड़ी ने प्रोटियाज के 8 विकेट पहले ही सेशन में गिरा दिए। मेजबान टीम ने अपनी पारी 65/2 के स्कोर से आगे बढ़ाई। तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने दिन के दूसरे ही ओवर में हाशिम अमला (4) को गली में रोहित शर्मा के हाथों कैच आउट कराकर मेजबान टीम को जोरदार झटका दिया। रोहित शर्मा ने गली में अमला का बेहतरीन कैच लपका। उन्होंने मैदान से सटी हुई गेंद को लपकने में सफलता हासिल की और यह कहने में कोई हैरानी नहीं होगी कि रोहित ने दर्शनीय कैच लपका।

जल्द ही शमी ने शमी ने नाइट वॉचमैन कागिसो रबाडा (5) को कप्तान कोहली के हाथों कैच आउट कराकर दक्षिण अफ्रीका को चौथा झटका दिया और टीम इंडिया को दिन की दूसरी सफलता दिलाई। प्रोटियाज को इसके बाद जसप्रीत बुमराह ने तगड़ा झटका दिया। उन्होंने कप्तान फाफ डू प्लेसी को खाता भी नहीं खोलने दिया और विकेटकीपर साहा के हाथों कैच आउट कराया।

फिर बुमराह ने बेहतरीन इनस्विंग डाली, जिस पर क्विंटन डी कॉक (8) के बल्ले का अंदरूनी किनारा लगा और विकेटकीपर साहा ने आसान कैच लपका। हालांकि, इस विकेट को हासिल करने के लिए टीम इंडिया को DRS का सहारा लेना पड़ा। दरअसल, अंपायर ने कॉक को नॉटआउट करार दिया था, तब कोहली ने DRS मांगा। रीप्ले में साफ हुआ कि बल्ले पर गेंद लगकर गई है। इस तरह दक्षिण अफ्रीका को छठा झटका लगा। फिर मोहम्मद शमी ने वेर्नोन फिलेंडर को खाता भी खोलने नहीं दिया और LBW आउट कर दिया।

इसके बाद एबी डीविलियर्स ने केशव महाराज (15) के साथ आठवें विकेट के लिए 27 रन की साझेदारी की और टीम को 100 रन के पार लगाया। इसकी मदद से दक्षिण अफ्रीका ने अपनी बढ़त 200 रन की कर ली। तभी भुवनेश्वर कुमार ने केशव महाराज को विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा के हाथों कैच आउट कराया। फिर भुवनेश्वर कुमार ने मोर्ने मोर्केल (2) को खतरनाक बाउंसर डाली, जिसे बल्लेबाज संभाल नहीं पाए और विकेटकीपर साहा ने आसान कैच लिया। साहा ने अब तक मैच में कुल 10 शिकार किए हैं। बुमराह ने एबी डीविलियर्स (35) को डीप मिडविकेट में भुवनेश्वर कुमार के हाथों कैच आउट कराकर मेजबान टीम की पारी का अंत किया।

टीम इंडिया की तरफ से मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह ने तीन-तीन विकेट चटकाए। हार्दिक पांड्या और भुवनेश्वर कुमार को दो-दो विकेट मिले।

बता दें कि टीम इंडिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच केपटाउन में जारी पहले टेस्ट का तीसरा दिन बारिश के कारण रद्द हो गया था। क्रिकेट फैंस के हाथ निराशा लगी जब एक भी गेंद बिना फेंके अंपायर ने दिन का खेल रद्द करने की घोषणा की।

इससे पहले मेजबान टीम को दूसरी पारी में दूसरी पारी में ओपनर्स एडेन मार्करम (34) और डीन एल्गर ने 52 रन की साझेदारी करके दमदार शुरुआत दिलाई। हार्दिक पांड्या ने मार्करम को भुवनेश्वर कुमार के हाथों कैच आउट कराकर टीम इंडिया को पहली सफलता दिलाई। जल्द ही पांड्या ने डीन एल्गर (25) को विकेटकीपर साहा के हाथों कैच आउट कराकर दूसरा शिकार किया। टीम इंडिया की तरफ से हार्दिक पांड्या ने दोनों विकेट लिए।

इससे पहले हार्दिक पांड्या (93) की बेहतरीन पारी और भुवनेश्वर कुमार (25) के साथ हुई आठवें विकेट के लिए 99 रन की साझेदारी की बदौलत टीम इंडिया की पहली पारी शनिवार को पहले टेस्ट के दूसरे दिन 73.4 ओवर में 209 रन पर ऑलआउट हुई। केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी 286/10 के स्कोर से टीम इंडिया 77 रन पीछे रही।

Comments

comments