शॉन मार्श और मिचेल मार्श दोनो सगे भाइयों की पारियो की बदौलत ऑस्ट्रेलिया बहुत ही मजबूत िस्तथी में आ गया है
हम बात कर रहे है दो सगे भाई शॉन मार्श और मिचेल मार्श के बारे में .

एशेज सीरीज के पांचवें टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया की तरफ से बल्लेबाजी करते हुए इन दो भाइयों ने कमाल की पारी खेली और शतक लगा दिया। इन दोनों की बल्लेबाजी के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में इंग्लैंड के खिलाफ विशाल स्कोर खड़ा किया।

मिचेल मार्श और शॉन मार्श का शतक

शॉन और मिचेल सगे भाई हैं और पांचवें टेस्ट मैच में इंग्लैंड के खिलाफ इन दोनों का बल्ला जमकर बोला। शॉन मार्श ने 156 रन की पारी खेली। उन्होंने 291 गेंदों का सामना करते हुए 18 चौकों की मदद से इतने रन बनाए। वहीं मिचेल मार्श ने 101 रन की पारी खेली। उन्होंने अपनी पारी में कुल 14 चौके और 2 छक्के लगाए और 141 गेंदों का सामना किया। शॉन मार्श रन आउट हो गए जबकि मिचेल को टॉम कुरान ने बोल्ड किया। मिचेल मार्श ने पर्थ टेस्ट में भी इंग्लैंड के खिलाफ 181 रन की पारी खेली थी वहीं शॉन मार्श ने एडिलेड टेस्ट मैच में नाबाद 126 रन की पारी खेली थी। शॉन मार्श के टेस्ट करियर का ये छठा शतक था वहीं मिचेल के टेस्ट करियर का ये दूसरा शतक था। मिचेल ने अपने टेस्ट करियर में अब तक सिर्फ दो ही शतक लगाए हैं और ये दोनों इन्होंने इसी एशेज टेस्ट सीरीज में बनाए हैं।

पांचवें विकेट के लिए मार्श बंधूओं के बीच मजबूत साझेदारी

शॉन मार्श और मिचेल मार्श ने पांचवें टेस्ट मैच की पहली पारी में अपनी टीम के लिए दमदार साझेदारी की। इन दोनों ने पांचवें वेकिट के लिए 169 रन की पार्टनरशिप की। इसमें शॉन ने 66 जबकि मिचले ने 101 रन बनाए। इससे पहले शॉन ने चौथे विकेट के लिए उस्मान ख्वाजा के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 101 रन की साझेदारी की थी। वहीं छठे विकेट के लिए टिम पेन के साथ 52 रन की पार्टनरशिप की।

ऑस्ट्रेलिया के लिए इन सगे भाइयों ने एक साथ खेला है क्रिकेट

शॉन और मिचेल से पहले दो और ऐसे सगे भाइयों की जोड़ी रही है जिन्होंने एक साथ अपनी टीम के लिए क्रिकेट मैच खेला है। ऑस्ट्रेलिया के लिए जिन दो भाइयों ने सबसे पहले एक साथ क्रिकेट खेला वो थे इयान चैपल और ग्रेग चैपल। इन दोनों ने अपनी टीम के लिए 43 टेस्ट मैच एक साथ खेले थे। इनके बाद जिन दो भाइयों की जोड़ी आई वो थे स्टीव वॉ और मार्क वॉ। इन दोनों ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 108 टेस्ट मैच खेले थे।

Comments

comments